search
top

Celebrated Completion Of 50 Episodes Of Kiske Rooke Ruka Hai Sawaira Serial Aired On DD Kisan

डीडी किसान पर ‘किसके रोके रुका है सवेरा’ के 50 एपिसोड प्रसारित होने पर मना जश्न

धारावाहिक के निर्माता, निर्देशक और कलाकारों ने इस शो से जुड़े दिलचस्प किस्से शेयर किये

दूरदर्शन के किसान चैनल पर इन दिनों धारावाहिक ‘किसके रोके रुका है सवेरा’ काफी पसंद किया जा रहा है। इस धारावाहिक में दमदार कहानी है और समाज को एक नई रोशनी दिखाई गई है। शानदार डायरेक्शन और कलाकारों के उम्दा अभिनय के दम पर इस सीरियल के 50 एपिसोड प्रसारित हो चुका है। साथ ही इस धारावाहिक की टीआरपी भी सबसे ज्यादा है। धारावाहिक के 50 एपिसोड पूरे होने की ख़ुशी में सभी कलाकारों और यूनिट के सदस्यों ने शूटिंग के सेट पर केक काट कर जश्न मनाया।

आपको बता दें कि ग्रामीण क्षेत्रों के विकास और शहरों की समस्याओं को दर्शाती, महिला सशक्तिकरण की कहानी है यह सीरयल ‘किसके रोके रुका है सवेरा’, जो कि हर सोमवार से शुक्रवार तक रात 9 बजे दूरदर्शन किसान पर प्रसारित हो रहा है और डीडी किसान के दर्शक इस मनोरंजनपूर्ण धारावाहिक का आनंद ले रहे हैं। इस धारावाहिक के निर्देशक प्रमोद शास्त्री हैं। निर्माता पवन कुमार मिश्रा और प्रमोद कुमार पांडेय हैं। धारावाहिक के सह निर्माता वेदर फिल्म्स (पूनम सिंह) और डायमंड ड्रॉप प्रोडक्शंस हैं। धारावाहिक के कलाकारों में मुख्य भूमिकाएं आदित्य वर्मा (धीरज), कनक यादव (आशा), राजा गुरु (सूरज), अलका चोटालिया (उषा), बालेश्वर सिंह (शिवा), राकेश दूबे (भास्कर), नीतू पांडे (रमा), चन्दन कश्यप (धर्मा), सपना मालिक (छबीली), राजीव सक्सेना (प्रधान) और गोविन्द पाठक (रामलाल) निभा रहे हैं।

इस सीरयल के सूत्रधार और प्रेरणा स्रोत श्री एन मिश्रा ने इस अवसर पर कहा कि किसान चैनल पर यह सबसे लोकप्रिय धारावाहिक है जिसकी टी आरपी बहुत है। यह महिला सशक्तिकरण के मुद्दे पर बेस्ड है। इससे सभी लोगों को प्रेरणा मिलेगी। फिल्म के निर्माता और बैनर को बधाई देना चाहता हूँ कि इन्होंने इतना अच्छा सीरियल बनाया। सभी कलाकारों और टीम को मुबारकबाद। यह सभी की मेहनत का नतीजा है।

धारावाहिक के निर्देशक प्रमोद शास्त्री ने कहा कि श्री एन मिश्रा जी शुरू से ही हमारे साथ एक स्तम्भ की तरह खड़े रहे और जब भी जरुरत पड़ी उन्होंने सभी जरूरतों को पूरा किया। जैसी उम्मीद की थी वैसे ही हमने काम किया और आज इसकी तारीफ हो रही है। लोगों के कमेंट्स संतोषजनक हैं। प्रमोद शास्त्री ने आगे कहा कि गाँव में भी मैंने दो तरह की जिन्दगी बिताई है एक एकदम ग्रामीण क्षेत्र में, दूसरे लखनऊ जैसे शहर में भी जीवन बिताया है। किसान का बेटा हूँ, इसलिए तमाम अनुभवों को इसमें समाने की कोशिश की है।

इस धारावाहिक में सूरज नामक किरदार निभाने वाले एक्टर राजा गुरु ने कहा कि प्रमोद शास्त्री जी कैप्टन ऑफ़ द शिप हैं। हम फैमिली की तरह काम करते हैं। यह शिक्षाप्रद सीरियल है। अगर गाँव में विकास होगा तो देश में भी विकास होगा। गाँव में भी रोजगार के मौके हैं और यह सीरियल यही संदेश देता है कि लोग शहर की ओर पलायन न करें। अगर यह शो देखकर कुछ लोग गाँव छोड़कर शहर जाना छोड़ देंगे तो मैं समझूंगा कि मेरा किरदार सार्थक हो गया। मेरे किरदार को जीवित बनाने का क्रेडिट डायरेक्टर प्रमोद शास्त्री जी को जाता है।

इस शो की एक्ट्रेस कनक यादव ने भी पूरी टीम को बधाई दी और कहा कि हमारा सीरियल गाँव की फीलिंग्स को पेश करता है। मेरा किरदार शो में अहम है। मेरे किरदार का नाम आशा है। जिसकी कम उम्र में गाँव में शादी करा दी जाती है। वह कैसे अपनी सीमाओं में रहते हुए भी पढ लिख कर ऑफिसर बनती है। उन्होंने आगे कहा कि हम खुद को लकी मानते हैं कि हमारे इस शो ने पचास एपिसोड पूरे कर लिये हैं। मैं अपने इस किरदार और इस शो के माध्यम से कहना चाहती हूँ कि आपकी शिक्षा आपका साथ कभी नहीं छोड़ेगी इसलिए इसमें शिक्षा की अहमियत पर जोर दिया गया है।

इसमें धीरज का किरदार प्ले करने वाले एक्टर आदित्य वर्मा ने कहा कि मैं पूरी टीम को बधाई देना चाहता हूँ. गाँव में भी रोजगार के बहुत साधन हैं, यह शो यही पैगाम देता है।

Print Friendly, PDF & Email

Comments are closed.

top